Jokhim Samachar Network | Jokhim Samachar Network

Saturday, June 23, 2018

Select your Top Menu from wp menus

  • योग, प्रयोग और संयोग की सरकार।

    आयोजनों के ज़रिये जनता से प्राप्त करों की कमाई को अन्धाधुन्ध तरीके से खर्च कर एक बार फिर छवि निमार्ण की दिशा में आगे बढ़ती नज़र आ रही है भाजपा। कुछ मिनटों के ...

  • महबूबा के जाने के बाद।

    यह देखना महत्वपूर्ण होगा कि आनन-फानन में पीडीपी से समर्थन वापस लेकर महबूबा की सरकार गिराने वाली भाजपा अपनी इस कार्यवाही के बाद कश्मीर के अलगाववाद की समस्य ...

  • सन्तई के बहाने

    तथाकथित सन्तो व फर्जी़ बाबाओ पर लग रहे बलात्कार व एैेय्याशी के तमाम आरोंपो के बीच एक नाम दाती महाराज का भी। भ्रष्ट सन्तो की श्रेणी में दाती महाराज का भी न ...

  • नाकामयाब मंसूबो के साथ ।

    कलम की ताकत को खरीदने या फिर लक्ष्य से डिगा पाने में असफल कट्टरवादी ताकतों ेका हिसंक होना उनकी हताशा का परिणाम। मिशन से व्यवसाय में तब्दील हो चुकी पत्रकार ...

  • खुद को साबित करने की होड़ में।

    सस्ती लोकप्रियता हासिल करने के लिऐ सड़को पर उतरकर योग का प्रचार करने का मन बना रही सरकारी व्यवस्था वास्तविकताओं से अंजान । बेकारी, बेरोज़गारी तथा पलायन से ज ...

  • लॉस्ट एंड फाउंड

    आप सभी मित्रों का धन्यवाद् प्रताप सिंह ठाकुर जो की 4 जून से मिल नहीं रहे थे, वह मिल गए हैं. आप सब की जागरूकता के वजह से यह काम बहोत आसान हो गया. आप सभी को ...

  • बदलाव की बयार

    उत्तराखंड के सुदूरवर्ती ग्रामीण क्षेत्रों में स्वरोजगार को लेकर उत्साहित नजर आती हैं महिलाएं अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर ग्रामीण एवं पर्वतीय उत्थ ...

  • छपास का रोग

    नेताओं के साथ ही साथ नौकरशाहों व अधिकारियों में भी बढ़ रही है मीडिया में छाये रहने अथवा सस्ती लोकप्रियता हासिल करने की ललक। सूचना एवं संचार के इस दौर में स ...

  • राजनीति की बिसात पर

    केन्द्र सरकार के खिलाफ धरने पर बैैठे उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत राजकाज से पहली फुर्सत पाते ही केन्द्र सरकार के खिलाफ धरना देने दिल्ली जा पहुंचे हर ...

  • योग, प्रयोग और संयोग की सरकार।

    आयोजनों के ज़रिये जनता से प्राप्त करों की कमाई को अन्धाधुन्ध तरीके से खर्च कर एक बार फिर छवि निमार्ण की दिशा में आगे बढ़ती नज़र आ रही है भाजपा। कुछ मिनटों के ...

  • ना काहू से दोंस्ती , नही किसी से बैर

    सर्वे के नाम पर चुनावों से ठीक पहले प्रस्तुत किये जा रहे आॅकड़ो से मतदाता को नही किया जा सकता गुमराह। पाॅच राज्यो में आदर्श चुनाव संहिता के लागू होते ही कय ...

  • युवा होते भारत में

    देश में महिला व युवा मतदाताओं की संख्या निर्णायक होने के बावजूद सत्ता की राजनीति में उनकी हिस्सेदारी सीमित। हर चुनावों की तरह इस बार भी राजनैतिक दल जनमत प ...

  • ‘सावधानी हटी, दुघर्टना घटी’

    भाजपा व काॅग्रेस के राजनैतिक अस्तित्व पर प्रश्न चिन्ह खड़ा कर सकते है पाॅचे राज्यों के विधानसभा चुनाव। भारत के राजनैतिक परिपेक्ष्य में अपनी राजनैतिक कब्जेद ...

  • राजनैतिक ज़रूरतो के हिसाब से।

    प्रणव मुखर्जी को आगे कर अपनी उदारवादी छवि चमकाने की फिराक में है संघ। राष्ट्रीय स्ंवय सेवक संघ द्वारा अपने मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में पूर्व राष्ट्र ...

  • स्थानीयता के आभाव में

    मंचीय संस्कृति एवं लोककलाओं के गैर परम्परागत् अन्दाज से खतरे की जद में है एक समृद्ध व्यवस्था उत्तराखंड लोककला व संस्कृति की दृष्टि से समृद्ध क्षेत्र है तथ ...

  • एक और नये मोर्चे की शुरूवात

    ग्रामीण क्षेत्रों को स्थानीय नगर निकायों में शामिल करने के विरूद्ध आन्दोलन की सुगबुगाहट शुरू । उत्तराखंड में पिछले दो महिने से भी अधिक समय से चल रहे शराब ...

  • बारिशों के बाद-हाल-बेहाल हुआ आम आदमी का जीवन

    आपदा प्रबन्धन, सर्तकता और व्यापक जनहित के दावे करने वाली उत्तराखंड सरकार धरातल पर किस तरह काम कर रही है इसका अंदाजा मानसून के शुरूवाती दौर में लगभग दो दिन ...

  • जिम्मेदारियों से बचने की कोशिश में

    एचआईवी संक्रमण या जन स्वास्थ्य जैसे तमाम विषयों पर घटी है सरकार की संवेदनशीलता। एचआईवी संक्रमण के जानलेवा खतरों से देश की तमाम जनता को आगाह कराते हुए बचाव ...


Top News



देहरादून


देश

  1. All

उत्तराखंड


मनोरंजन


विशेष बातचीत

  • योग, प्रयोग और संयोग की सरकार।

    आयोजनों के ज़रिये जनता से प्राप्त करों की कमाई को अन्धाधुन्ध तरीके से खर्च कर एक बार फिर छवि निमार्ण की दिशा में आगे...

  • महबूबा के जाने के बाद।

    यह देखना महत्वपूर्ण होगा कि आनन-फानन में पीडीपी से समर्थन वापस लेकर महबूबा की सरकार गिराने वाली भाजपा अपनी इस कार्य...

  • सन्तई के बहाने

    तथाकथित सन्तो व फर्जी़ बाबाओ पर लग रहे बलात्कार व एैेय्याशी के तमाम आरोंपो के बीच एक नाम दाती महाराज का भी। भ्रष्ट...

  • नाकामयाब मंसूबो के साथ ।

    कलम की ताकत को खरीदने या फिर लक्ष्य से डिगा पाने में असफल कट्टरवादी ताकतों ेका हिसंक होना उनकी हताशा का परिणाम। मिश...