पैराग्लाइडिंग एक्यूरेसी में हिमाचल का दबदबा | Jokhim Samachar Network

Sunday, June 23, 2024

Select your Top Menu from wp menus

पैराग्लाइडिंग एक्यूरेसी में हिमाचल का दबदबा

नई टिहरी चार दिवसीय नेशनल पैराग्लाइडिंग टिहरी एक्यूरेसी चैंपियनशिप में हिमाचल प्रदेश के खिलाड़ियों का जलवा रहा। प्रतियोगिता में 30 प्वाइंट के साथ हिमाचल के सुशांत ठाकुर विजेता, 38 प्वाइंट के साथ अक्षय कुमार उपविजेता और 142 प्वाइंट के साथ नरेश कुमार तीसरे स्थान पर रहे। विजेता को एक लाख, उपविजेता को 75 हजार और तृतीय स्थान वाले प्रतिभाग को 50 हजार रुपये की प्राइज मनी दी गई। गुरुवार को कोटी कालोनी में उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद, जिला प्रशासन और टीएचडीसी के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित टिहरी एक्यूरेसी कप का समापन हो गया। समापन कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एडीएम केके मिश्रा ने कहा कि साहसिक खेलों में भी बेहतर करियर बनाया जा सकता है। कहा कि टिहरी झील पैराग्लाइडिंग सहित साहसिक खेलों का हब बनने की दिशा में आगे बढ़ रही है। यूटीडीबी के एसीईओ (साहसिक विंग) कर्नल अश्विनी पुंडीर और जिला पर्यटन विकास अधिकारी सोबत सिंह राणा और साहसिक खेल अधकारी खुशाल सिंह नेगी ने बताया कि प्रतियोगिता के लिए टेक ऑफ प्वाइंट कुट्ठा और लैंडिंग प्वाइंट कोटी कॉलोनी रखा गया था। खास बात यह रही कि पहली बार उत्तराखंड के 10 स्थानीय युवाओं ने भी इसमें शिरकत की। बताया कि देश के विभिन्न राज्यों से आए पैराग्लाइडरों ने कुल 5-5 राउंड किए। जिसमें प्रथम तीन स्थान पर हिमाचल के खिलाड़ियों ने परचम लहराया। बताया कि गत वर्ष नवंबर माह में भी टिहरी में एक्रो पैराग्लाइडिंग फेस्टिवल का सफल आयोजन किया जा चुका है। उस वक्त की प्रतियोगिता में टेक ऑफ प्वाइंट प्रतापनगर और लैंडिंग प्वाइंट कोटी कॉलोनी था। जिसमें पैराग्लाइडिंग के अच्छे रूझान के चलते यह आयोजन किया गया तो सफल रहा। कर्नाटक, मणिपुर, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, मिजोरम, दिल्ली, पंजाब, उत्तराखंड आदि प्रदेश के खिलाड़ियों ने इसमें प्रतिभाग किया जिसमें 8 महिलाएं भी शामिल रहीं। मंत्रा के निदेशक तानाजी ताकवे के निर्देशन में यह चैंपियनशिप कराई गई। वह प्रदेश भर के खिलाड़ियों को पैराग्लाइडिंग का प्रशिक्षण दे रहे हैं और अब 150 से अधिक युवाओं को प्रशिक्षित कर चुके हैं। वहीं पद्मश्री अवार्डी शीतल महाजन ने कहा कि टिहरी झील और आसपास के क्षेत्र में पैराग्लाइडिंग की असीम संभावना है। बताया कि तुर्की के बाद प्रतापनगर पैराग्लाइडिंग की सबसे ऊंची साइट है। आने वाले दिनों में पर्यटन विभाग को और प्रयास कर यहां गतिविधियां बढ़ानी चाहिए। इस मौके पर प्रतियोगिता के चीफ जज सिक्किम के राजू राय, साहसिक खेल अधिकारी केएस नेगी, मनोज जोशी, अंकित गौड़ सहित दर्जनों मौजूद रहे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *