सरकारी डिग्री कॉलेज के प्रत्येक छात्र को मिलेगा स्मार्ट टेब | Jokhim Samachar Network

Friday, December 03, 2021

Select your Top Menu from wp menus

सरकारी डिग्री कॉलेज के प्रत्येक छात्र को मिलेगा स्मार्ट टेब

ऋषिकेश ।  उच्च शिक्षा एवं स्वास्थ्य मंत्री डा. धन सिंह रावत ने कहा कि राज्य में सरकारी डिग्री कॉलेज के प्रत्येक छात्र को दिसंबर में एक- एक स्मार्ट टेब मिलेगा। कहा कि उत्तराखंड में 2 लाख 72000 विद्यार्थी हैं। साथ ही आश्वासन दिया कि कॉलेज में सीमित सीटों के बावजूद कोई भी छात्र प्रवेश से वंचित नहीं रहेगा। इसके लिए सांध्यकालीन क्लास की भी व्यवस्था करेंगे।
सोमवार को ऋषिकेश राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय परिसर श्रीदेव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय के लिए भूमि दान करने वाले स्व. पंडित ललित मोहन शर्मा की प्रतिमा अनावरण कार्यक्रम में उच्च शिक्षा एवं स्वास्थ्य मंत्री डा. धन सिंह रावत बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में स्कूल और कॉलेज के लिए भूमि दान देने वाले लोगों को सम्मानित किया जाएगा। उन्होंने दानदाता के परिजन और श्री भरत मंदिर ट्रस्ट के हर्षवर्धन शर्मा, महंत वत्सल शर्मा प्रपन्न, गीता कुकरेती, सुधीर कुकरेती को शॉल ओढ़ाकर और स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया। विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल, मेयर अनिता ममगाईं, जयराम आश्रम ट्रस्ट के अध्यक्ष ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी महाराज, श्री भरत मंदिर ट्रस्ट के महामंत्री हर्षवर्धन शर्मा ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। इससे पूर्व श्रीदेव सुमन उत्तराखंड के कुलपति पीपी ध्यानी ने शिक्षा मंत्री, विधानसभा अध्यक्ष, मेयर, ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी को स्मृति चिह्न प्रदान किया। मौके पर कुल सचिव मोहन सिंह पंवार, उप कुलसचिव खेमराज भट्ट, सहायक कुलसचिव देवेंद्र सिंह रावत, परीक्षा नियंत्रक एसएस रावत, कॉलेज प्राचार्य पंकज पंत, प्रवक्ता डॉ दयाधर दीक्षित, बचन पोखरियाल, पूर्व दर्जाधारी भगतराम कोठारी, पूर्व पालिकाध्यक्ष दीप शर्मा, अशोक अग्रवाल, पार्षद राकेश, शिव कुमार गौतम, विनय उनियाल, अजय गर्ग, आईके गोदवानी आदि मौजूद रहे।
प्रतिमा अनावरण कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद्र अग्रवाल ने राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय परिसर में स्थित करीब 300 मीटर कच्ची रोड को पक्की बनाने के लिए 5 लाख रुपये देने की घोषणा की है। साथ ही उच्च शिक्षा मंत्री का कॉलेज में शिक्षा व्यवस्था को बेहतर बनाने और संसाधन जुटाने को पूर्व में 54 करोड़ की वित्तीय स्वीकृती की ओर ध्यानाकर्षित कराया। कहा कि धन आंवटित नहीं किया तो कॉलेज और छात्र हित में बजट जारी कराएं।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *