Thursday, April 27, 2017

Select your Top Menu from wp menus
मनोरंजन
  • समिति ने किया फूलों की होली का आयोजन

    चुनावों के बाद के बार फिर रंगाारंग कार्यक्रमों के आगाज के साथ की आयोजनों की  शुरूवात आज दिनांक 19.03.2017 ...

    चुनावों के बाद के बार फिर रंगाारंग कार्यक्रमों के आगाज के साथ की आयोजनों की  शुरूवात आज दिनांक 19.03.2017 को ग्रामीण एवं पर्वतीय उत्थान समिति द्वारा होली व अन्य रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन किया गया। ज् ...

    Read more
  • प्यार के इजहार का दिन वैलेनटाइन डे पर विशेष।

    वैलेनटाइन डे, यानि प्यार के इजहार का दिन। युवाओं का एक ऐसा त्योहार जो बहुत तेजी के साथ इस देश में लोकप्रि ...

    वैलेनटाइन डे, यानि प्यार के इजहार का दिन। युवाओं का एक ऐसा त्योहार जो बहुत तेजी के साथ इस देश में लोकप्रिय हुआ और जिसे बाजारवादी मानसिकता ने पूरे एक सप्ताह का आयोजन बना दिया। हाॅलाकि यह कहना कठिन है क ...

    Read more
  • अराजकता की हद

    कानून को हाथ में लेकर अपना ऐजेण्डा लागू करने की कोशिश कर रही है कट्रवादी ताकतें। अपने एक सूत्रीय अभियान क ...

    कानून को हाथ में लेकर अपना ऐजेण्डा लागू करने की कोशिश कर रही है कट्रवादी ताकतें। अपने एक सूत्रीय अभियान के तहत भाजपा से सम्बद्ध एक गुट उग्र हिन्दुत्व के मुद्दे को हवा देकर मतदाताओं के बड़े वर्ग को अपने ...

    Read more
  • प्रतिभा को मिला सम्मान

    पदम्श्री के राष्ट्रीय सम्मान से नवाजी गयी बंसती देवी बिष्ट। उत्तराखंड की सुप्रसिद्ध लोकगायिका बंसती देवी ...

    पदम्श्री के राष्ट्रीय सम्मान से नवाजी गयी बंसती देवी बिष्ट। उत्तराखंड की सुप्रसिद्ध लोकगायिका बंसती देवी बिष्ट को पदम्श्री से सम्मानित किया जाना वाकई में सुखद है और इसे न सिर्फ बंसती देवी बिष्ट का बल् ...

    Read more
  • कभी रेल में तो कभी जेल में

    फिल्मी अदाकारो का तो काम ही है चर्चाओं में बने रहने के लिऐ कुछ न कुछ अलग करने की कोशिश करना लेकिन सरकारी ...

    फिल्मी अदाकारो का तो काम ही है चर्चाओं में बने रहने के लिऐ कुछ न कुछ अलग करने की कोशिश करना लेकिन सरकारी तंत्र को अपनी खामिया छिपाने की कोशिश करने की जगह व्यवस्था मेें सुधार के उपाय करने चाहिऐ। अपनी फ ...

    Read more
  • एक बार फिर निशाने पर

    महिलाओं व युवतियों के साथ हुई अभ्रदता या छेड़खानी की स्थिति मे उनके पहनावे को ही बनाया जाता है निशाना। नये ...

    महिलाओं व युवतियों के साथ हुई अभ्रदता या छेड़खानी की स्थिति मे उनके पहनावे को ही बनाया जाता है निशाना। नये साल के आगाज को मद्देनजर रखते हुऐ आयोजित की गयी पार्टी का देर रात तक चलना कोई नई बात नहीं है और ...

    Read more