गौवंश हत्या मामले का अल्मोड़ा पुलिस ने किया खुलासा, 04 आरोपी गिरफ्तार | Jokhim Samachar Network

Monday, May 20, 2024

Select your Top Menu from wp menus

गौवंश हत्या मामले का अल्मोड़ा पुलिस ने किया खुलासा, 04 आरोपी गिरफ्तार

अल्मोड़ा बीते दिनों हुए गोवंश हत्या के मामले में पुलिस को सफलता हाथ लगी है। मामले का खुलासा करते हुए अल्मोड़ा एसएसपी देवेन्द्र पींचा ने बताया कि पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है तथा आरोपियों से हथियार और पिकअप वाहन भी बरामद किया गया है। विदित हो कि बीती 03 मई को थाना भतरौजखान अंतर्गत रिची और मोहनरी रोड पर गौवंश के सिर, पैर व अन्य भाग काटकर फेंके हुए मिले थे। जिस पर भतरौजखान थाने में उत्तराखण्ड गौवंश संरक्षण अधिनियम 2007 बनाम अज्ञात का मुकदमा पंजीकृत किया गया था। गौवंश की हत्या और ऐसे अवशेष फेंके जाने को लेकर लोगों में भारी आक्रोश था तथा मामले में अभियुक्तों की गिरफ़्तारी को लेकर संगठनों द्वारा ज्ञापन भी दिए गए थे। मामले के खुलासे को लेकर एसएसपी अल्मोड़ा ने सोमवार को पत्रकार वार्ता की। समाचार एजेंसी आरएनएस को एसएसपी ने बताया कि 3 मई को भतरौंजखान के रिची-मोहनरी रोड पर गोवंश के अवशेष मिले थे। जिस पर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ गौवंश संरक्षण अधिनियम 2007 से संबंधित धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया था। सीओ विमल प्रसाद के नेतृत्व में टीमों का गठन कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी थी। तीन टीमों ने आसपास के लोगों से पूछताछ शुरू कर दी थी। रविवार को पुलिस ने मामले में तीन आरोपियों सलीम (47 वर्ष) निवासी नरपतनगर स्वार, रामपुर यूपी हाल निवासी ग्राम बधाण, भतरौजखान, इसराइल (40 वर्ष) निवासी दड़ियाल टाण्डा, रामपुर यूपी, इमरान (23 वर्ष) निवासी मुड़ियाकला बाजपुर उधमसिंह नगर को भतरौजखान पेट्रोल पम्प के पास से गिरफ्तार कर आवश्यक कार्यवाही की गई व सोमवार को चौथे आरोपी हरी सिंह कड़ाकोटी (54 वर्ष) उर्फ हरदा को रामनगर रोड भतरौजखान से गिरफ्तार किया। पुलिस ने आरोपियों से दो कुल्हाड़ी, चार छुरिया, एक लोहे की रॉड, दो रस्से और एक पिकअप वाहन बरामद किया है। एसएसपी ने मामले का खुलासा व अभियुक्तों की गिरफ्तारी करने वाली पुलिस टीम को पांच हजार रुपये नकद इनाम की घोषणा की है। यहाँ पुलिस टीम से एसआई राहुल राठी थानाध्यक्ष देघाट, एसआई जसविन्दर सिंह थानाध्यक्ष चौखुटिया, एसआई अवनीश कुमार थानाध्यक्ष द्वाराहाट, मदन मोहन जोशी थानाध्यक्ष भतरौजखान, एसआई सुनील कुमार आदि शामिल रहे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *