नैनीताल बैंक यूनाइटेड फ़ोरम के बैनर तले हुई बैठक  | Jokhim Samachar Network

Friday, February 03, 2023

Select your Top Menu from wp menus

नैनीताल बैंक यूनाइटेड फ़ोरम के बैनर तले हुई बैठक 

नैनीताल बैंक के अस्तित्व को बचाना मेरा उद्देश्य : अजय भट्ट
हल्द्वानी। जगदंबा नगर स्थित एक बैंक्वेट हाल में रविवार को नैनीताल बैंक यूनाइटेड फ़ोरम के बैनर तले बैठक का आयोजन किया गया। इसमें पांच राज्यों से पहुंचे 1100 कर्मचारियों ने शिरकत की। अधिवेशन का शुभारंभ केंद्रीय पर्यटन एवं रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट ने किया। कार्यक्रम में नैनीताल बैंक को बैंक ऑफ बड़ौदा द्वारा निजी हाथों में सौंपने को निकाली गई निविदा निरस्त करवाने की मांग की गई।
फोरम के अध्यक्ष चंद्रशेखर कन्याल ने कहा कि नैनीताल बैंक जिसमें बैंक ऑफ बड़ौदा की 98.57% अंशधारिता है। वर्तमान में अपनी 165 शाखाओं के साथ उत्तर भारतीय क्षेत्र दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान और मुख्य रूप से उत्तराखंड में फैला हुआ है। नैनीताल बैंक पिछले 50 वर्षों से लाभ अर्जित करने वाला संस्थान है और बैंक ऑफ बड़ौदा को औसतन 22% का लाभांश देता रहा है। नैनीताल बैंक को अटल पेंशन योजना में उत्कृष्ठ कार्य के लिए भारत सरकार द्वारा पूर्व में पुरस्कृत किया गया है। उन्होंने कहा कि नैनीताल बैंक उत्तराखंड सरकार को सर्वाधिक टैक्स देने वाले संस्थानों में अग्रणी है।
रक्षा राज्य मंत्री ने कहा कि नैनीताल बैंक उत्तराखंड का स्वाभिमान रहा है। पिछले 100 वर्षों से लगातार नैनीताल बैंक रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के अंतर्गत लाखों ग्राहकों को अपनी सेवाएं दे रहा है। उन्होंने आश्वासन दिया कि वे जल्द ही केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से भेंटकर नैनीताल बैंक को निजी हाथों में न देकर बैंक का विलय उसके मातृसंस्थान बैंक ऑफ बड़ौदा में ही हो इसे लेकर निवेदन करेंगे। उन्होंने कहा कि नैनीताल बैंक के अस्तित्व को बचाना मेरा उद्देश्य है। उनका पूरा प्रयास होगा कि नैनीताल बैंक को बैंक ऑफ बड़ौदा में समावेश किया जाए।
कार्यक्रम में मुख्यमंत्री के प्रतिनिधि के रूप में पहुंचे ध्रुव रौतेला ने कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी मामले की गंभीरता को लेकर चिंतित हैं। बताया कि पूर्व में बैंक के प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात के बाद उत्तराखंड सरकार ने केंद्र से पत्राचार कर पहल की है। इस मामले में वे केंद्रीय वित्तमंत्री और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी वार्ता करेंगे। नैनीताल की विधायक सरिता आर्य ने कर्मचारियों को आश्वासन दिया कि वे इस मामले को लेकर जो भी आंदोलन होगा उसमें कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी रहेंगी। फोरम के अध्यक्ष चंद्रशेखर कन्याल एवं महासचिव पीयूष पयाल द्वारा मुख्यमंत्री को प्रेषित ज्ञापन लेकर वह देहरादून रवाना हो गईं। कार्यक्रम में जिलाध्यक्ष प्रताप बिष्ट, शंकर कोरंगा, गीता जोशी, मुकेश बेलवाल, अभय गुप्ता, आरसी शर्मा, भरत निरमले, संजय साह, बीडी भट्ट, कमलेश जोशी आदि मौजूद रहे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *