हरिद्वार   पुलिस ने सुभाषगढ़ से स्मैक लेकर ज्वालापुर बेचने जा रहे एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। दूसरी ओर 40 लीटर कच्ची शराब के साथ तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया। | Jokhim Samachar Network

Sunday, April 21, 2024

Select your Top Menu from wp menus

हरिद्वार   पुलिस ने सुभाषगढ़ से स्मैक लेकर ज्वालापुर बेचने जा रहे एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। दूसरी ओर 40 लीटर कच्ची शराब के साथ तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया।

हरिद्वार   पुलिस ने सुभाषगढ़ से स्मैक लेकर ज्वालापुर बेचने जा रहे एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। दूसरी ओर 40 लीटर कच्ची शराब के साथ तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया। मुखबिर ने सूचना दी कि एक युवक बाइक पर स्मैक बेचने ज्वालापुर जा रहा है। पुलिस ने सुभाषगढ़ तिराहे पर वाहन चेकिंग अभियान शुरू कर दिया। कुछ देर बाद बाइक सवार युवक कासमपुर की ओर से आता दिखाई दिया। पुलिस ने रोककर पूछताछ की तो उसने अपना नाम नौशाद निवासी कासमपुर बताया। तलाशी लेने पर उसके पास से 6.20 ग्राम स्मैक बरामद हुई। दूसरे मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को बुक्कनपुर तिराहे से ई रिक्शा में 40 लीटर कच्ची शराब के साथ गिरफ्तार किया है।

गुणवत्ता जांच में खरे उतरे दूध के 25 सैंपल
हरिद्वार राजकीय खाद्य प्रयोगशाला रुद्रपुर के तत्वाधान में मोबाइल फूड टेस्टिंग वैन की गुणवत्ता जांच में दूध के 25 सैंपल सही पाए गए हैं। खाद्य सुरक्षा विभाग के अधिकारियों ने गैंडीखाता में अभियान चलाकर विभिन्न दूध के सप्लाई सेंटर एवं दूध वाहनों से मौके पर ही दूध के सैंपल लिए थे। जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी एमएन जोशी ने बताया कि बुधवार को गैंडीखाता में दूध सप्लाई सेंटरों और दूध के वाहनों से मौके पर ही दूध के 25 सैंपल लिए। जिसकी जांच मोबाइल फूड टेस्टिंग वैन में मौके पर ही कराई गई। लैब के कनिष्ठ विश्लेषक द्वारा मौके पर ही लिए गए 25 दूध के सैंपलों की जांच कराई जाए मोबाइल फूड टेस्टिंग लैब में की गई दूध के सैंपलों की जांच गुणवत्ता जांच में सही पाए गए हैं।

साइंस किसी भी देश के विकास के लिए जरूरी: प्रो. मुकेश
हरिद्वार  गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय में नेशनल साइंस डे कार्यक्रम का उदघाटन वेद मंत्रों के उच्चारण से प्रारंभ हुआ। प्रो. मुकेश कुमार ने कहा कि साइंस किसी भी देश के विकास के लिए जरूरी है। इसे देश के डेवलपमेंट के लिए रीढ़ की हड्डी कहा जाए तो गलत नहीं होगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर प्रो. नवनीत ने बताया कि इस दिन ही देश के महान वैज्ञानिक सीवी रमन ने प्रकाश की फोटोन थ्योरी से जुड़ी एक अहम खोज रमन प्रभाव की खोज की थी। सीवी रमन को इस खोज के लिए नोबेल पुरस्कार मिला था। डॉ. चिरंजीव बैनर्जी ने कहा कि हम सबको साइंस के लिए अपना योगदान देने के लिए संकल्प लेना चाहिए। जिन्दगी में विज्ञान के योगदानों के बारे हम सभी को जागरूक होना चाहिए।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *