छात्रा का शव हॉस्टल में फंदे पर लटका मिला, भाई ने प्रबंधन पर लगाया आरोप | Jokhim Samachar Network

Sunday, April 21, 2024

Select your Top Menu from wp menus

छात्रा का शव हॉस्टल में फंदे पर लटका मिला, भाई ने प्रबंधन पर लगाया आरोप

मेरठ 15 फरवरी  मेरठ बाइपास स्थित एमआईईटी कॉलेज के हॉस्टल में बीसीए फस्र्ट ईयर की छात्रा मनीषा का शव फंदे पर लटका मिलने से हडक़ंप मच गया। मनीषा का शव हॉस्टल के कमरे में पंखे से लटका मिला। सूचना पर मेरठ पहुंचे परिजनों का आरोप है कि कॉलेज वाले उनसे सच्चाई छिपा रहे हैं। वह आत्महत्या नहीं कर सकती है। वहीं जानी पुलिस घटना को लेकर जांच कर रही है।
बिहार, चंपारण जिले की रहने वाली मनीषा पुत्री जितेन्द्र एमआईईटी परतापुर में बीसीए फस्र्ट ईयर की छात्रा थी। वह एमआईईटी मेरठ बागपत बाइपास के कैंपस स्थित हास्टल में कमरा नंबर 223 में रह रही थी। गुरुवार को आठ बजे के करीब मनीषा अपने हॉस्टल के कमरें में फांसी पर लटकी मिली। कमरा अंदर से बंद था। छात्रा की आत्महत्या की सूचना मिलते ही जानी पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है।
जानी थानाध्यक्ष प्रांजल त्यागी ने बताया कि जिस रूम में मनीषा रहती थी उसी रूम में बिहार निवासी दो अन्य छात्राएं साक्षी व प्रियांशी भी साथ रहती थीं। बुधवार को प्रियांशी का जन्मदिन था। इसको लेकर उन्होंने अपने कॉलेज के छात्र हिमांशु को केक लेने के लिये भेजा था। इस दौरान अपने जन्मदिन की अन्य तैयारी को लेकर प्रियांशी साक्षी के साथ मिलने के लिए हॉस्टल की दूसरी छात्राओं के पास गई हुई थी।
उन्होंने मनीषा से भी साथ चलने को कहा, लेकिन उसने पढ़ाई की बात कहकर साथ जाने से मना कर दिया। साक्षी व प्रियांशी के रूम से चले जाने के बाद मनीषा ने हॉस्टल रूम का गेट बंद कर लिया। कुछ समय बाद साक्षी व प्रियांशी लौटकर आईं तो उन्होंने अपने रूम का गेट खुलवाने के लिए नॉक किया तो भीतर से कोई उत्तर नहीं मिला। वह काफी देर तक रूम का गेट खुलवाने के लिए मनीषा को आवाज लगाती रहीं लेकिन कोई आवाज नहीं आई।
इसके बाद उन्होंने मनीषा का मोबाइल भी ट्राइ किया, लेकिन कोई रिप्लाई नहीं मिला। इस दौरान  हॉस्टल के अन्य कमरों में रहने वाली छात्राएं भी वहां जमा हो गईं। जानकारी पर वार्डन व अन्य स्टाफ वहां जमा हो गया। इस दौरान एक स्टाफ ने रूम की खिडक़ी पर चढक़र झांककर देखा। अंदर कमरे में  पंखे से मनीषा की झूल रही थी। स्टाफ ने तुरंत कमरे का दरवाजा तोडक़र मनीषा को नीचे उतारा।
गंभीर अवस्था में हॉस्टल प्रशासन ने उपचार के लिए मनीषा को अस्पताल भेजा, लेकिन अस्पताल में चिकित्सकों ने मनीषा को मृत घोषित कर दिया। पुलिस को सूचना दी तो पुलिस तत्काल मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने शव का पंचनामा भर कर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है।
जानी थानाध्यक्ष प्रजंत त्यागी के अनुसार पुलिस तमाम पहलुओं को ध्यान में रखते हुए जांच कर रही है। इस मामले में संदिग्धता को देखते हुए हॉस्टल में उसके साथ रहने वाले दूसरी छात्राओं से भी पुलिस ने पूछताछ की है। मोबाइल की कॉल डिटेल निकलवाई जा रही है। पूछताछ के लिए एक छात्र को पुलिस ने हिरासत में लिया है।
घटना की जानकारी पर जानी थाना पहुंचे मनीषा के भाई सोनू ने बताया कि हमारे माता-पिता नहीं हैं। हमारा लालन-पालन रिश्तेदारों ने किया है। मनीषा बहुत हसमुंख स्वभाव की थी। उसे ज्यादा मिलना-जुलना या दोस्त बनाना भी पसंद न

 

 

मेरठ 15 फरवरी   मेरठ के साकेत पंट्रोल पंप के पास बाइक सवार दो बदमाशों ने बीएससी की छात्रा से मोबाइल छीन लिया। इससे तिलमिलाई छात्रा एक राहगीर की स्कूटी पर सवार होकर लुटेरों के पीछे पड़ गई। छात्रा ने नंगला बट्टू में बदमाशों को पकड़ लिया।
बदमाशों ने छात्रा पर पिस्टल तानी तो छात्रा उनसे भिड़ गई और पिस्टल छीनकर शोर मचा दिया। मौके पर भीड़ जमा हो गई, जिसके बाद बदमाश फरार हो गए। छात्रा को लेकर परिजनों ने सिविल लाइन थाने पहुंचकर घटना की जानकारी दी।
पुलिस के मुताबिक गंगानगर निवासी एक छात्रा बीएससी कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई कर रही है। बुधवार को वह अपनी मौसी के घर जाग्रति विहार गई थी। शाम को वह ई-रिक्शा से घर लौट रही थी। साकेत पेट्रोल पंप के सामने पीछे से आए बाइक सवार बदमाशों ने छात्रा का मोबाइल छीन लिया।
बहादुर छात्रा एक राहगीर की स्कूटी पर सवार होकर बदमाशों का पीछा करते हुए नंगला बट्टू तक पहुंच गई। बदमाशों ने छात्रा को देखकर उस पर पिस्टल तान दिया। छात्रा हिम्मत दिखाते हुए बदमाशों से भिड़ गई और उनका पिस्टल छीनकर शोर मचाने लगी। शोर सुनकर भीड़ जुटी तो बदमाश भाग गए।
छात्रा के घुटने व हाथों में चोट भी आई है। एसपी सिटी आयुष विक्रम सिंह का कहना है कि सीसीटीवी चेक कराए गए हैं, सीसीटीवी में अभी तक ऐसी कोई घटना नहीं दिखाई दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

मेरठ 15 फरवरी   शिवसेना नेता धर्मदत्त शर्मा उर्फ धर्मा की 23वी पुण्य तिथि के अवसर पर शिवसेना (उद्धव गुट) द्वारा छीपी टैंक स्थित शिवसेना कार्यालय पर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया।
इस अवसर पर प्रदेश महासचिव व पश्चिमी यूपी प्रभारी धर्मेन्द्र तोमर ने धर्मा को याद करते हुऐ कहा कि धर्मदत्त शर्मा हिन्दुत्व के प्रखर समर्थक थे, जब वे शिवसेना से जुड़े तो उन्होंने शिवसेना को बुलंदियों पर पहुंचाने का बीड़ा उठाते हुए मेरठ महानगर प्रमुख, जिला प्रमुख व मेरठ मंडल प्रमुख के दायित्वों को निभाते हुए शिवसेना को मजबूती प्रदान करने का कार्य किया।
श्रंद्धाजलि देने वालों में जिला उपप्रमुख पंकज गुप्ता व राम सिंह यादव, जिला महासचिव अवनीश आर्य, प्रदीप सक्सेना व कमल प्रजापति, जिला कोषाध्यक्ष मुकेश वर्मा, महानगर प्रवक्ता डा विनित जैन व त्रिलोक चंद गुप्ता, मास्टर अजीज ठेकेदार, अमरनाथ, नरेश राघव, बिरजू, मुजाहिद, अलिशा, पूजा सिंघल, अजमल, आकाश कन्नौजिया, अजय कन्नौजिया, दीपक वैश्य, लोकेश गुप्ता आदि शामिल रहे।

 

मेरठ 15 फरवरी  आयुक्त सेल्वा कुमारी जे0 ने आज कलेक्ट्रेट का निरीक्षण किया। वहां आगमन पर उन्हें गार्ड आफ ऑनर दिया गया। उन्होने मुख्यमंत्री कमांड एवं कंट्रोल सेंटर का उद्घाटन किया। आयुक्त ने कहा कि पत्रावलियों में कोई भी आवेदन या कार्य लंबित न रखे।
वहां उन्होने भविष्य निधि लेखा पुस्तिका, सेवा पुस्तिका, विभागीय कार्यवाही रजिस्टर, गार्ड फाईल, उपस्थिति पंजिका, जॉब चार्ट, दाखिल दफ्तर रजिस्टर को देखा और कहा कि रिकार्ड को अद्यतन रखा जाये। आयुक्त ने राजस्व अभिलेखागार कक्ष का निरीक्षण करते हुये वहां शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में नजूल व तालाब की भूमि के अभिलेखो का रैन्डमली अवलोकन किया। आयुक्त ने जिला संग्रह कार्यालय में राजस्व वसूली की समीक्षा, शासनादेश रजिस्टर, इन्सट्रक्शन नोट, आरसी मिलान का रजिस्टर आदि का अवलोकन किया। उन्होने संबंधित अधिकारी से आरसी वसूली की प्रक्रिया के बारे में जानकारी प्राप्त करते हुये आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। नजारत, शस्त्र अनुभाग, डीएलआरसी, में अभिलेखो का निरीक्षण किया गया। उन्होने ई-गवर्नेन्स सेल का भी निरीक्षण किया।
इस अवसर पर जिलाधिकारी दीपक मीणा, ज्वाईंट मजिस्ट्रेट गामिनी सिंगला, ज्वाईंट मजिस्ट्रेट श्रुति शर्मा, अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित कुमार, अपर जिलाधिकारी नगर बृजेश सिंह, अपर जिलाधिकारी वित्त सूर्यकांत त्रिपाठी, अपर आयुक्त शमशाद हुसैन, नगर मजिस्ट्रेट अनिल कुमार सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारीगण उपस्थित रहे।-

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *