यमुनोत्री मंदिर के कपाट शीतकाल के लिए हुए बंद | Jokhim Samachar Network

Thursday, March 04, 2021

Select your Top Menu from wp menus

यमुनोत्री मंदिर के कपाट शीतकाल के लिए हुए बंद

उत्तरकाशी । भैया दूज पर्व पर भारी बर्फबारी के बीच यमुनोत्री मंदिर के कपाट शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए। मां यमुना की उत्सव मूर्ति को डोली यात्रा के साथ शीतकालीन प्रवास खरसाली गांव लाया गया। अब सर्दियों में खरसाली में ही मां यमुना के दर्शन और पूजा-अर्चना की जा सकेगी।
सोमवार को भैया दूज पर सुबह करीब साढ़े आठ बजे खरसाली से मां यमुना के भाई सोमेश्वर देवता (शनि महाराज) की डोली यमुनोत्री धाम के लिए रवाना हुई। तय मुहूर्त पर दोपहर 12.15 बजे मां यमुना की उत्सव मूर्ति को मंदिर के गर्भगृह से बाहर निकालकर डोली में विराजमान किया गया और विधि विधान के साथ यमुनोत्री मंदिर के कपाट शीतकाल के लिए बंद किए गए।
भारी बर्फबारी के बीच मां यमुना की डोली यात्रा यमुनोत्री से छह किमी की दूरी पर स्थित खरसाली गांव के लिए रवाना हुई। खरसाली पहुंचकर मां यमुना की उत्सव मूर्ति को यमुना मंदिर में स्थापित किया गया। यमुनोत्री धाम के कपाट बंद होने के अवसर पर मंदिर को फूलों से सजाया गया था। इस अवसर पर श्री यमुनोत्री मंदिर समिति अध्यक्ष व उप जिलाधिकारी बड़कोट चतर सिंह चैहान, देवस्थानम बोर्ड के विशेष कार्याधिकारी व प्रभारी अधिकारी यमुनोत्री एएस नेगी, मंदिर समिति के सचिव कृतेश्वर उनियाल, अनोज उनियाल, आशुतोष उनियाल पुलिस प्रशासन के अधिकारी-कर्मचारी तथा तीर्थ पुरोहित मौजूद रहे। देवस्थानम बोर्ड के मीडिया प्रभारी डा. हरीश गौड़ ने बताया कि इस यात्रा वर्ष यमुनोत्री धाम में आठ हजार श्रद्धालु दर्शन को पहुंचे। यमुनोत्री धाम के कपाट बंद होने के साथ ही आज प्रातः केदारनाथ धाम के कपाट शीतकाल हेतु बंद हो गए, जबकि गंगोत्री धाम के कपाट 15 नवंबर को अन्नकूट के अवसर पर बंद हुए। बदरीनाथ धाम के कपाट 19 नवंबर को सायंकाल 03 बजकर 35 मिनट पर शीतकाल हेतु बंद होंगे।
यमुनोत्री मंदिर के कपाट बंद होने पर एसडीएम चतर सिंह चैहान, एसओ डीएस कोहली, कमल बिष्ट, करणी सेना के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राज शेखावत, सच्चिदानंद उनियाल, वेदप्रकाश उनियाल, आशुतोष उनियाल, अनोज उनियाल, जगमोहन उनियाल, देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के यमुनोत्री प्रभारी अनुसूया सिंह नेगी आदि मौजूद रहे। जबकि खरसाली में यमुनोत्री विधायक केदार सिंह रावत, मनमोहन उनियाल, प्रदीप उनियाल, पुरुषोत्तम उनियाल, रणवीर राणा आदि ने मां यमुना की डोली का स्वागत किया।
यमुना नदी को स्वच्छ एवं निर्मल बनाने के लिए ग्राम स्वराज संस्थान द्वारा देहरादून से शुरू की गई नमामि यमुना जन चेतना यात्रा सोमवार को खरसाली पहुंची। इससे पूर्व सोमवार सुबह यात्रा का बड़कोट में पालिकाध्यक्ष अनुपमा रावत सहित स्थानीय लोगों ने स्वागत किया। यात्रा के प्रमुख अनमोल ग्राम स्वराज संस्थान के अध्यक्ष राजेंद्र सेमवाल ने कहा कि यमुना नदी को स्वच्छ एवं पावन बनाए रखने के उद्देश्य से यह यात्रा निकाली गई। इस मौके पर लोक गायिका पूनम सती, शांति ठाकुर, आचार्य बालेश्वर धाम, कुसुम कंडवाल, रामस्वरूप थपलियाल, सुशील सेमवाल, गोविंद भट्ट, सुरेश डिमरी, सूरज लोहनी आदि मौजूद रहे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *