सरकार व ऊर्जा निगम झूठे आश्वासन देकर हड़ताल स्थगित करवा देती है | Jokhim Samachar Network

Sunday, September 26, 2021

Select your Top Menu from wp menus

सरकार व ऊर्जा निगम झूठे आश्वासन देकर हड़ताल स्थगित करवा देती है

विकासनगर। पुरानी एसीपी लागू करने सहित चैदह सूत्रीय मांगों के निस्तारण की मांग को लेकर ऊर्जा भवन डाकपत्थर, निर्माणाधीन व्यासी बांध परियोजना कार्यालय और सभी पांचों जल विद्युत परियोजनाओं पर अधिकारी कर्मचारी संयुक्त मोर्चा ने प्रदर्शन किया। मोर्चा ने सरकार को याद दिलाया कि गत माह 27 जुलाई को सरकार ने एक माह के भीतर समस्याओं के समाधान का आश्वासन देकर हड़ताल को स्थगित कराया था, लेकिन ऐसा करने में सरकार विफल रही। जिसके लिए अब मोर्चा को फिर से वादा निभाओ आंदोलन करना पड़ा। मोर्चा ने यह भी चेतावनी दी है कि यदि सरकार अब भी नहीं चेती और उनकी मांगी पूरी नहीं करती है तो छह अक्टूबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू की जाएगी। उत्तराखंड विद्युत अधिकारी कर्मचारी संयुक्त मोर्चा के कर्मियों ने सुबह दस बजे कार्यालय पहुंचकर गेट मीटिंग और धरना प्रदर्शन शुरू किया। जिसके तहत ऊर्जा भवन डाकपत्थर, व्यासी बांध परियोजना कार्यालय डाकपत्थर, खोदरी पावर हाउस, छिबरों पावर हाउस, ढकरानी पावर हाउस, ढालीपुर पावर हाउस और कुल्हाल पावर हाउस के बाहर कर्मचारियों ने धरना प्रदर्शन कर प्रदेश सरकार व ऊर्जा विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। कहा कि सरकार व ऊर्जा निगम कर्मचारियों को झूठे आश्वासन देकर हड़ताल तो स्थगित करवा देता है, लेकिन उसके बाद फिर से सो जाते हैं। अब की बार संयुक्त मोर्चा मांगों को पूरा किए बिना किसी भी तरह के आश्वासन को नहीं मानेगा। बल्कि सरकार यदि अपना किया वायदा निर्धारित एक माह की अवधि समाप्त होने के बाद भी पूरा नहीं करती है तो छह अक्टूबर से पूरे प्रदेश में अधिकारी कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू करेंगे। उसके बाद किसी भी आश्वासन से झूठी वार्ता नहीं की जायेगी। बल्कि मांग पूरी होने तक हड़ताल जारी रहेगी। कहा कि जनहित में कोई भी अधिकारी कर्मचारी हड़ताल नहीं करना चाहता, लेकिन सरकार अपने झूठे व कोरे आश्वासनों के चलते अधिकारी कर्मचारियों को हड़ताल के लिए बाध्य कर रही है। जिसका परिणाम अब सरकार व ऊर्जा निगम को भुगतना ही पड़ेगा। सभा की अध्यक्षता मोर्चा यमुना वैली के अध्यक्ष संजय राणा व संचालन मोहम्मद रियाज ने किया। सभा को संजय सत्संगी, भारत गैरोला, विनीत सैनी, सुशील टम्टा, पंकज नैथानी, संजय राणाा, राजेश तिवारी, संतोष मधुवाल, राजवीर सिंह, हरविंद कुमार, अरविंद चैरसिया, सौरभ पांडेय, शंकर सिंह, गोपाल बिहारी, सुल्तानसिंह, शरद रघुवंशी, देवेंद्र सिंह चैहान, रेनू तोमर, रिंकी तोमर, माया तोमर, विशाल गुप्ता, यतीन धीमान, शंकर, अरुण कुमार, संदीप, रवि माथुर, संदीप जखमोला, मुकुल द्विवेदी, राम अरोडा, शिवेंद्र शर्मा, पीयुष कुमार, विवेक ग्रोबर, सागर, प्रकाश, ममता रानी, सुमित्रा, मनोज, अरविंद कुमार, पीयुस चैधरी, एकेसिंह, अमित बहुगुणा, सूरज पुंडीर, अरुण, रोहताश, प्रकाश, कामवीर,मनोज कुमार, जितेंद्र, प्रेमप्रकाश, राजपाल, रितु, गोविंद सिंह, सोनम, रिंकी तोमर, योगेश, सूरत सिंह, रितेश तोमर, पुष्पेंद्र, रवि और गुलाब आदि शामिल रहे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *