टीएचडीसीआईएल ने टिहरी में वाटर स्पोर्ट्स हाई परफॉर्मेंस अकादमी के लिए किया एमओयू | Jokhim Samachar Network

Monday, March 04, 2024

Select your Top Menu from wp menus

टीएचडीसीआईएल ने टिहरी में वाटर स्पोर्ट्स हाई परफॉर्मेंस अकादमी के लिए किया एमओयू

ऋषिकेश, देहरादून में आयोजित उत्तराखंड ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट-2023 में आर.के. विश्नोई  अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड ने इंडियन कयाकिंग और कैनोइंग एसोसिएशन (आईकेसीए), उत्तरांचल ओलंपिक एसोसिएशन (यूओए) और युवा कल्याण और खेल विभाग, उत्तराखंड सरकार के साथ एक ऐतिहासिक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए। यह हस्ताक्षर समारोह मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की उपस्थिति में आयोजित किया गया जो कि टिहरी, कोटेश्वर, उत्तराखंड में टीएचडीसीआईएल वाटर स्पोर्ट्स हाई परफॉर्मेंस अकादमी की स्थापना की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।
यह एमओयू देहरादून में किया गया, जिस पर हस्ताक्षर करने वाले प्रमुख प्रतिनिधियों में टीएचडीसीआईएल के निदेशक (कार्मिक), शैलेन्द्र सिंह, आईकेएसए के अध्यक्ष प्रशांत कुशवाहा, यूओआई के सचिव, डॉ डी.के.सिंह, विशेष प्रमुख सचिव खेल एवं युवा कल्याण, उत्तराखंड अमित सिन्हा (आईपीएस), और टीएचडीसीआईएल के कार्यपालक निदेशक (टीसी), एल.पी.जोशी (टीएचडीसीआईएल की ओर से तथा सुशासित करने वाली बॉडी के साथ समन्वय हेतु) शामिल थे। इसका उद्देश्य  पुरुष और महिला एथलीटों के लिए आवासीय सुविधा के साथ अत्याधुनिक उच्च प्रदर्शन अकादमी के विकास की रूपरेखा बनाना, अत्याधुनिक उपकरण और सुविधाएं उपलब्ध कराकर एथलीटों के प्रदर्शन को बढ़ाना है।
समझौते के अंतर्गत, अकादमी कैनो स्प्रिंट, पैरा-कैनो और कैनो स्लैलम के विषयों में विश्व चैंपियनशिप, एशियाई स्तर की चैंपियनशिप और रैंकिंग चैंपियनशिप सहित अंतर्राष्ट्रीय आयोजनों के लिए एथलीटों को प्रशिक्षित करने पर ध्यान केंद्रित करेगी। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने टीएचडीसीआईएल की भूमिका की सराहना की और कहा कि इस पहल का उद्देश्य वैश्विक पारिस्थिति की तंत्र बनाना है जो न केवल स्थानीय स्तर पर खेल को बढ़ाएगा बल्कि कोटेश्वर और टिहरी में उच्च प्रदर्शन एकडमी में अंतरराष्ट्रीय वातावरण विकसित करने में भी योगदान देगा। उत्तराखंड की खेल एवं युवा कल्याण मंत्री रेखा आर्य ने भी इस ऐतिहासिक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर करने पर टीएचडीसी को हार्दिक बधाई दी। श्री विश्नोई ने अकादमी की प्रतिबद्धता पर बल देते हुए कहा कि यह विदेशी एथलीटों का भारत में स्वागत करते हुए अंतरराष्ट्रीय सहयोग को बढ़ावा देगी। टीएचडीसीआईएल वाटर स्पोर्ट्स हाई परफॉर्मेंस अकादमी विश्वस्तरीय प्रशिक्षण सुविधाएं उपलब्ध कराकर प्रतिभाओं का पोषण करेगी और वैश्विक स्तर पर विशेषज्ञता के आदान-प्रदान का माध्यम बनेगी। यह पहल क्षेत्र में वाटर स्पोर्ट्स के विकास के लिए एक मजबूत आधार तैयार करने और अंतरराष्ट्रीय खेल मंच पर उत्तराखंड की प्रमुखता को बढ़ाने की दृष्टि के साथ संरचित की गई है। श्री विश्नोई ने इस ऐतिहासिक उत्तराखंड ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट 2023 का आयोजन कराने के लिए उत्तराखंड के माननीय मुख्यमंत्री को बधाई दी। यह समिट उत्तराखंड के समग्र सामाजिक-आर्थिक विकास में एक लंबा रास्ता तय करेगी। उन्होंने कहा कि टीएचडीसी उत्तराखंड राज्य की विकास पहलों के साथ हमेशा कदमताल मिलाकर चली है और इस संबंध में हाल ही में टीएचडीसीआईएल ने उत्तराखंड राज्य में कुल 1719 मेगावाट की पांच जलविद्युत परियोजनाओं के समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं, जिसमें 17,000 करोड़ रुपये का अनुमानित निवेश शामिल होगा। इससे उत्तराखंड के युवाओं के लिए प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोजगार के पर्याप्त अवसर पैदा होंगे।
—————————————

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *