लघु व्यापार एसोसिएशन ने तीन सूत्रीय मांगों को लेकर निगम प्रशासन के खिलाफ किया प्रदर्शन | Jokhim Samachar Network

Tuesday, January 19, 2021

Select your Top Menu from wp menus

लघु व्यापार एसोसिएशन ने तीन सूत्रीय मांगों को लेकर निगम प्रशासन के खिलाफ किया प्रदर्शन

हरिद्वार । फुटपाथ के कारोबारी रेडी पटरी, हाथ-ठेली, फेरी-टोकरी के (स्ट्रीट वेंडर्स) लघु व्यापारियों के सामूहिक संगठन लघु व्यापार एसोसिएशन के प्रांतीय अध्यक्ष संजय चोपड़ा की अगुवाई में अपने निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार चंडी चैराहे से पोस्ट ऑफिस तक अपनी तीन सूत्रीय मांगों को लेकर ठेली रैली निकालकर सामाजिक दूरी के साथ नगर निगम प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए जोरदार प्रदर्शन किया।
प्रदर्शनकारी लघु व्यापारियों ने अपनी तीन सूत्रीय मांगों को दोहराते हुए (हरिद्वार) नगर निगम प्रशासन पर प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर योजना के तहत रेडी पटरी के (स्ट्रीट वेंडर्स) लघु व्यापारियों को 10-10 हजार की कर्ज के रूप में सहायता राशि दिए जाने की प्रक्रिया पर लापरवाही का आरोप लगाया। लघु व्यापारियों ने नगर निगम प्रशासन पर यह भी आरोप लगाया कि पूर्व के प्रस्तावित तीन वेंडिंग जोन, जिनमे रेडी पटरी के (स्ट्रीट वेंडर्स) लघु व्यपारियो का पंजीकरण व सारी प्रक्रिया पूरी होने के बावजूद भी नगर निगम प्रशासन द्वारा दरकिनार किया जा रहा है। लघु व्यापारियों ने यह भी मांग दोहराई नगर निगम प्रशासन द्वारा फेरी समिति की बैठक बुलाकर लघु व्यापारियों की समस्या का समाधान किया जाना चाहिए था लेकिन नगर निगम प्रशासन की कार्यशैली निराशा जनक है।
इस अवसर पर लघु व्यापार एसो. के प्रांतीय अध्यक्ष संजय चोपड़ा ने कहा हरिद्वार नगर निगम क्षेत्र में फुटपाथ के कारोबारी रेडी पटरी लगाकर अपने परिवार का पालन-पोषण करने वाले लघु व्यापारियों की एक बहुत बड़ी तादात है। जिनका कारोबार कोरोना महामारी के चलते आर्थिक रूप से प्रभावित हुआ है। जिन्हें आत्मनिर्भर बनाने के लिए भारत सरकार के संरक्षण में प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर योजना के तहत 10-10 हजार की कर्ज राशि सहायता के रूप में दिए जाने के लिए भारत सरकार द्वारा दिन-प्रतिदिन समीक्षायें की जा रही है। लेकिन हरिद्वार नगर निगम प्रशासन द्वारा आत्मनिर्भर योजना में धीमी रफ्तार से रेडी पटरी के (स्ट्रीट वेंडर्स) लघु व्यापारियों को योजना का लाभ नही मिल पा रहा है जोकि औचित्यपूर्ण नही है।  चोपड़ा ने कहा नगर निगम प्रशासन द्वारा सर्वे के आधार पर लगभग ढाई से तीन हजार रेडी पटरी के (स्ट्रीट वेंडर्स) लघु व्यापारियों का सर्वे किया जा चुका है, सर्वे के आधार पर राज्य फेरी नीति नियमावली का संरक्षण नियम अनुसार रेडी पटरी के लघु व्यापारियों को ना दिया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। नगर निगम प्रशासन से अपनी तीन सूत्रीय मांगों को लेकर ठेली रैली निकालते लघु व्यापारियों में वीरेंद्र सिंह, मोहनलाल, छोटेलाल शर्मा, रमेश कुमार, रवि शर्मा, ओमप्रकाश भाटिया, धर्मपाल कश्यप, तस्लीम अहमद, भगवान दास, गौरव गुप्ता, विजय गुप्ता, मोतीराम, बालकिशन, प्रमोद जाटव, सुरेंद्र रावत, खुशीराम, सरदार दर्शन सिंह, सुमन गुप्ता, मुन्नी देवी, सुमित्रा देवी, आशा देवी, मंजू देवी, निशा अरोड़ा, बबिता बिष्ट आदि प्रमुख रूप से शामिल रहे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *