नो फूड वेस्टिंग कार्यक्रम का हुआ समापन | Jokhim Samachar Network

Saturday, September 26, 2020

Select your Top Menu from wp menus

नो फूड वेस्टिंग कार्यक्रम का हुआ समापन

हरिद्वार । गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय, हरिद्वार के सीनेट हाल में रोटरी क्लब कनखल, हरिद्वार के पांच दिवसीय जागरूकता अभियान कार्यक्रम नो फूड वेस्टिंग का समापन किया गया। समापन समारोह के मुख्य अतिथि विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 रूपकिशोर शास्त्री ने कहा कि अथर्ववेद में खाद्य पदार्थ के अपशिष्ट के सम्बन्ध में अंकित है। वेदों में सपष्ट रूप से लिखा हुआ है कि जितने भी पदार्थ हैं उनका संबंध देवताओं से है। इसीलिए अन्न को अन्न देवता के नाम से अभिहित किया गया है। आज कोई पदार्थ है उसका हमारी धार्मिक परम्पराओं से जोड़कर देखा जाता है। प्रकृति ने सभी पदार्थो को ईश्वरीय शक्ति से जोड़कर मानव हित के लिए उपयोगी बनाया है।
उन्होंने कहा कि ग्रामीण अंचलों में अन्न की उपयोगिता सबसे ज्यादा है। किसान अन्न उगाता है और खुशी से जनहित में जनता तक पहुंचाता है। रोटरी क्लब कनखल हरिद्वार के अध्यक्ष प्रदीप तोमर ने कहा कि हरिद्वार में क्लब के माध्यम से पांच दिनों से अलग-अलग समस्याओं को लेकर शहर में जागरूकता कार्यक्रम संचालित हो रहा है। इस जागरूकता कार्यक्रम से समाज में नई ऊर्जा का प्रादुर्भाव देखने को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि आज गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय के अतिथि गृह में नो फूड वेस्टिंग का कार्यक्रम का समापन किया गया है। इस अवसर पर तोमर ने कुलपति का आभार व्यक्त किया।
क्लब के सचिव विवेक गर्ग ने कहा कि हरिद्वार शहर में पांच दिनों में अलग-अलग मुद्दों पर जागरूकता अभियान चलाया गया। इस जागरूकता अभियान से समस्याओं के प्रति लोगों में चेतना बढ़ी है। पहला कार्यक्रम वृक्षों का संरक्षण, बच्चियों का संरक्षण, पर्यावरण प्रदूषण और नो फूड वेस्टिंग से लोग अब जागरूक होने लगे हैं। उन्होंने कहा कि इस समय कोरोना संक्रमण काल चल रहा है, जिसमें अन्न की उपादेयता बढ़ गयी है। इस अवसर पर प्रो0 सोमदेव शतांशु, अशोक सप्रा, प्रवीन चावला, अनिल केशवानी, इश मोगिया, राजकुमार शर्मा, चेतन घई, हरपाल सिंह, अनिल खुराना, राजीव अरोड़ा, मोहित अग्रवाल, संजय भारतीय, शौर्य तोमर, संदीप अग्रवाल, अंजू तोमर, इन्दु शप्रा, प्रिया मांगिया, पूजा चावला, नमिता खुराना इत्यादि उपस्थित रहे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *