रक्षा राज्यमंत्री अजय भट्ट ने किया छावनी परिषद क्लेमेनटाउन में पेयजल योजना का लोकार्पण | Jokhim Samachar Network

Sunday, September 26, 2021

Select your Top Menu from wp menus

रक्षा राज्यमंत्री अजय भट्ट ने किया छावनी परिषद क्लेमेनटाउन में पेयजल योजना का लोकार्पण

देहरादून। छावनी परिषद क्लेमेनटाउन के लोग को अब पेयजल किल्लत नहीं झेलनी होगी। छावनी परिषद की खुद की पेयजल योजना शुरू हो गयी है। रक्षा राज्यमंत्री अजय भट्ट ने योजना का लोकार्पण किया। कैंट की करीब 48 हजार की आबादी को योजना का लाभ होगा। दरआसल, छावनी क्षेत्र का ख्याल आते ही जहन में एक व्यवस्थित क्षेत्र की तस्वीर उतरती है। जहां आमजन को हर तरह की सुविधाएं मिल रही हों। इस लिहाज से क्लेमेनटाउन कैंट को भी सुविधाओं से लैस होना चाहिए था। मगर, वक्त के साथ बोर्ड की उम्र तो बढ़ी, पर सुविधाएं जस की तस ठिठकी रहीं। पेयजल व्यवस्था का ही उदाहरण यदि लें तो इस क्षेत्र में स्वतंत्र पेयजल व्यवस्था तक नहीं थी। जिससे गर्मियों में जनता को भारी परेशानी झेलनी पड़ती थी। ग्रामीण क्षेत्रों का हाल इससे भी बुरा था, जहा अब तक पानी की लाइन तक नहीं बिछ सकी थी। एक बड़ी आबादी का गुजारा हैंडपंप के सहारे ही चल रहा था। इससे मोरोवाला, बड़ा भारूवाला, छोटा भारूवाला, ओस्ले लाइन, डकोटा, मोथरोवाला, दौड़वाला, चादचक, लालढाग आदि में जनता को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता था।
आम जन को इन दिक्कतों से मुक्ति दिलाने को निजी पेयजल व्यवस्था पर कसरत शुरू हुई। एक स्वतंत्र पेयजल योजना का प्रस्ताव वर्ष 2012 में बोर्ड में लाया गया। कई साल चली इस कवायद के बाद वर्ष 2019 में तत्कालीन रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने क्षेत्र में 15.60 करोड़ की पेयजल योजनाओं का शिलान्यास किया था। यह योजना अब तैयार है और इससे क्लेमेनटाउन के सात वार्डों में पानी की आपूर्ति की जाएगी।
बता दें कि करीब दो दशक पहले तब रक्षा राज्य मंत्री बची सिंह रावत के सम्मुख यह मांग पहली बार रखी गई थी। फिर हरिद्वार सासद डा. रमेश पोखरियाल निशक ने निर्मला सीतारमण से मिलकर योजना स्वीकृत कराई। लोकार्पण कार्यक्रम में धर्मपुर विधायक विनोद चामोली, कैंट बोर्ड के मुख्य अधिशासी अधिकारी अभिषेक राठौड़, भाजपा नेता महेश पांडे आदि उपस्थित रहे।
रक्षा राज्यमंत्री ने क्लेमेनटाउन कैंट के लिए सीवर योजना, कैंट अस्पताल की सुविधाओं में बढ़ोतरी व केंद्रीय विद्यालय की स्थापना का भरोसा दिलाया। साथ ही अधिकारियों को निर्देश दिए कि पानी की दरें ऐसी रखी जाएं कि वह सबके लिए मुफीद हो। इस दौरान महापौर सुनील उनियाल गामा, जीओसी 14 इंफैंट्री डिवीजन मेजर जनरल राहुल आर सिंह, कैंट बोर्ड के अध्यक्ष ब्रिगेडियर योगेंद्र सिंह, एडीजी डिफेंस इस्टेट सोनम यंगडोल, निदेशक डिफेंस इस्टेट पुष्पेंद्र सिंह आदि भी उपस्थित रहे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *