गंगा कयाक फेस्टिवल 17 से 19 फरवरी तक ऋषिकेश में | Jokhim Samachar Network

Wednesday, March 03, 2021

Select your Top Menu from wp menus

गंगा कयाक फेस्टिवल 17 से 19 फरवरी तक ऋषिकेश में

देहरादून । राज्य में पर्यटन उद्योग को विकसित करने एवं साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से ऋषिकेश में तीन दिवसीय गंगा कयाक फेस्टिवल के नौवें संस्करण का आयोजन किया जा रहा है। उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद के सहयोग द्वारा एडवेंचर स्पोर्ट्स सोसाईटी गंगा कयाक फेस्टिवल की मेजबानी करेगी।
पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने बताया कि गंगा कयाक फेस्टिवल अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित किया जाता है किन्तु इस वर्ष कोरोना महामारी के कारण यह प्रतियोगिता राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित की जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद लगातार प्रयासरत हैं। कोविड के बाद पर्यटन के पुर्नरूद्धार के लिए धीरे-धीरे प्रदेश के प्रत्येक जिले में साहसिक खेलों का आयोजन किया जा रहा हैं। उन्होंने आयोजकों को कोविड महामारी के दिशा निर्देशों का पालन करते हुए, सभी प्रतियोगिताऐं आयोजित करने के निर्देश दिये।
भीम सिंह एडवेंचर स्पोर्ट्स सोसाईटी के अध्यक्ष ने बताया कि तीन दिवसीय गंगा कयाक फेस्टिवल  रैपिड गोल्फ कोर्स, फुलचट्टी ऋषिकेश में 17 फरवरी से 19 फरवरी तक आयोजित की जा रही है। इस प्रतियोगिता का उद्घाटन मुख्य अतिथि यमकेश्वर विधायक रितु खंडूरी द्वारा किया जायेगा। दिनेश भट्ट अध्यक्ष, राफ्टिंग एसोसिएशन ऋषिकेश ने बताया कि गंगा कयाक फेस्टिवल प्रतिवर्ष आयोजित की जाती हैं। रोमांच से भरपूर गंगा कयाक फेस्टिवल प्रतियोगिता में राइर्डस बढ़ चढकर प्रतिभाग करते हैं। उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि इस फेस्टिवल के आयोजन से बाहर से आने वाले पर्यटक साहसिक पर्यटन की ओर आकर्षित होंगे, जिससे निश्चित तौर पर स्थानीय लोंगो को रोजगार भी मुहैया होगा। तीन दिवसीय गंगा कयाक फेस्टिवल में स्प्रिंट, बोटर क्रॉस, जाइंट स्लैलम, मास बोटर क्रॉस आदि प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जायेगा। जिसमें पुरूष व महिला वर्ग के दोनों प्रतियोगी प्रतिभाग करेंगे। गंगा कयाक फेस्टिवल में प्रतिभाग करने वाले प्रतियोगी 10 फरवरी से वेबसाइट पर पंजीकरण कर सकते हैं आनलाईन पंजीकरण की प्रक्रिया 14 फरवरी तक खुली रहेगी।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *