डीएम ने की ग्राम्य विकास विभाग के अन्तर्गत संचालित परियोजनाओं की प्रगति समीक्षा | Jokhim Samachar Network

Saturday, August 13, 2022

Select your Top Menu from wp menus

डीएम ने की ग्राम्य विकास विभाग के अन्तर्गत संचालित परियोजनाओं की प्रगति समीक्षा

चमोली। जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने बुधवार को क्लेक्ट्रेट सभागार में ग्राम्य विकास विभाग के अन्तर्गत संचालित केन्द्र पोषित, राज्य पोषित एवं बहाय सहायतित परियोजनाओं की प्रगति समीक्षा की। जिसमें खंड विकास अधिकारियों को संचालित योजनाओं में तेजी लाने के निर्देश दिए गए। बैठक में देवाल ब्लाक के खंड विकास अधिकारी के उपस्थित न रहने पर जिलाधिकारी ने संबधित अधिकारी का वेतन आहरण पर रोक लगाने के आदेश  दिए। प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण के अन्तर्गत घाट और थराली ब्लाक में संचालित कार्यो की धीमी प्रगति पर जिलाधिकारी ने खंड विकास अधिकारियों को 10 अगस्त तक आवास निर्माण कार्यो को पूर्ण कराने के सख्त निर्देश दिए। कहा कि जिन लाभार्थियों को तृतीय किस्त दी जानी है उसको जल्द से जल्द अवमुक्त करें। नन्दानगर (घाट) ब्लाक में कार्य की अधिकता और ग्राम विकास अधिकारियों की कमी को देखते हुए कुछ समय के लिए अन्य ब्लाक से ग्राम विकास अधिकारी को संबद्व करने के निर्देश डीडीओ को दिए। सीमांत क्षेत्र विकास निधि के अन्तर्गत जोशीमठ ब्लाक में संचालित विभिन्न कार्यो की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने कार्यदायी संस्थाओं को निर्माण कार्यो में तेजी लाते हुए 15 सितंबर तक सभी कार्य पूर्ण कराने को कहा। बुरांश में झूला पुल निर्माण में धनराशि की कमी के दृष्टिगत इस योजना को मिसिंग फंड लिंक में प्रस्ताव उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। मनरेगा के अन्तर्गत अमृत सरोवर निर्माण एवं आजीविका सर्वद्वन कार्यो की समीक्षा करते हुए डीएम ने कहा कि अगस्त तक विकासखंडों को सरोवर निर्माण के लिए जो लक्ष्य दिया गया है उसको पूर्ण करना सुनिश्चित करें। निर्मित सरोवरों में मत्स्य पालन हेतु मत्स्य विभाग के साथ समन्वय किया जाए। जिलाधिकारी ने सभी खंड विकास अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए कि संचालित योजनाओं के अन्तर्गत निर्माण कार्यो की गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत ग्रोथ सेंटर स्थापित करने हेतु सभी बीडीओ एक-एक प्रस्ताव उपलब्ध करें। कहा कि अगस्त महीने में सभी पुराने ग्रोथ सेंटरों की समीक्षा और नए ग्रोथ सेंटरों के प्रस्ताव पर चर्चा की जाएगी। इस दौरान सांसद निधि योजना, मुख्यमंत्री पलायन रोकथाम योजना, मुख्यमंत्री सीमांत क्षेत्र विकास कार्यक्रम के अन्तर्गत निर्मित एवं निर्माणाधीन कार्यो की भी गहनता से समीक्षा की गई।
परियोजना निदेशक डीआरडीए आनंद सिंह ने बताया गया कि वर्ष 2020-21 में पीएम आवास के तहत 1117 लक्ष्य के सापेक्ष 775 आवास पूर्ण हो गए है। जबकि वर्ष 2021-22 में 248 लक्ष्य के सापेक्ष 120 आवास पूर्ण हो गए है। बीएडीपी के अन्तर्गत संचालित अधिकांश कार्य पूर्ण हो गए है। डीडीओ सुमन बिष्ट ने बताया कि जिले में कुल 76 अमृत सरोवर बनाए जाने है। आगामी 15 अगस्त तक 23 अमृत सरोवर बनाने का लक्ष्य है, जिसको अगले सप्ताह तक पूर्ण कर लिया जाएगा। मनरेगा के अन्तर्गत 19.38 लाख मानव दिवस सृजन लक्ष्य के सापेक्ष जुलाई तक तक 24 प्रतिशत लक्ष्य पूर्ति कर ली गई है। बैठक में सभी ब्लाकों से खंड विकास अधिकारी सहित निर्माणदायी एवं कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारी उपस्थित थे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *