सोमेश्वर में बादल फटने से भीषण तबाही; घरों में घुसे बोल्डर, ट्रक दफन | Jokhim Samachar Network

Wednesday, May 29, 2024

Select your Top Menu from wp menus

सोमेश्वर में बादल फटने से भीषण तबाही; घरों में घुसे बोल्डर, ट्रक दफन

अल्मोड़ा जनपद के सोमेश्वर तहसील क्षेत्र अंतर्गत चनौदा में बादल फटने से तबाही मची है। बादल फटने से लोगों के घरों में मलबा घुस गया। एक ट्रक और एक कार मलबे में दब गए। वहीं बोल्डर और मलबा आने से अल्मोड़ा-कौसानी राजमार्ग बन्द हो गया। इससे सैकड़ों लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। सोमेश्वर क्षेत्र में बुधवार सुबह से ही मौसम पल पल रंग बदलता रहा। बुधवार शाम करीब साढ़े सात बजे एकाएक बिजली कड़कने लगी। इस बीच जोरदार धमाके के साथ छतार के जंगल में बादल फट गया। इससे बाघ गधेरा उफान पर आ गया। गधेरे का मलबा चनौदा के करीब एक दर्जन घरों में घुस गया। मलबे के वेग ने घरों के दरवाजे और खिड़कियां तोड़ दीं। दुकानों में रखा सामान तहस-नहस कर दिया। इससे लोगों में अफरा-तफरी मच गई। लोग करीब आधे घंटे तक खौफ के साए में रहे। प्रभावित लोगों को सर छुपाने के लिए आसपास के घरों में शरण लेनी पड़ी। लोगों को संपत्ति का काफी नुकसान हुआ है। प्रभावित लोगों ने प्रशासन से प्रभावितों को तत्काल राहत दिलाने की मांग की है। बाघ गधेरे से उफान पर आया मलबा लोगों के लिए मुसीबत बनकर आया। मलबे की चपेट में एक ट्रक और एक कार भी आ गई। साथ ही मलबा लोगों के घरों और दुकानों में घुस गया। इससे लोगों को भारी नुकसान हुआ है। कई लोगों के फर्नीचर और घरेलू सामान मलबे में पट गया है। प्रशासन गुरुवार सुबह ही पहुंचा है और पीडब्ल्यूडी सुबह से मलबा हटाने के काम में जुटी हुई है। चनौदा में राहत व बचाव कार्य तेज, जेसीबी से हटाया जा रहा मलबा अल्मोड़ा सोमेश्वर तहसील के चनौदा में गत बुधवार शाम बादल फटने से भारी नुकसान हुआ है। अतिवृष्टि से उफने पानी ने जबर्दस्त तरीके से भूकटाव किया। जिससे पानी ने बहाकर सारा मलबा चनौदा बाजार सड़क मार्ग में उड़ेल दिया। तमाम घरों में मलबा घुसा। इसके बाद गुरुवार को एसडीआरएफ व प्रशासन की टीम पहुंची, जहां बचाव व राहत कार्य चल रहा है। गुरुवार को उपजिलाधिकारी सदर जयवर्धन शर्मा व तहसीलदार के नेतृत्व में प्रशासनिक अमला प्रभावित क्षेत्र में पहुंचा और एसडीआरएफ की टीम भी पहुंची है। इसके बाद से वहां बचाव व राहत कार्य चल रहा है। जेसीबी से मलबा हटाया जा रहा है। साथ ही एसडीआरएफ एवं जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी, पीडब्ल्यूडी के अधिशाषी अभियंता विभोर गुप्ता मौजूद हैं।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *