जिला योजना की बैठक में 2020-21 के लिए 44 करोड़ 83 लाख का बजट स्वीकृत | Jokhim Samachar Network

Wednesday, January 20, 2021

Select your Top Menu from wp menus

जिला योजना की बैठक में 2020-21 के लिए 44 करोड़ 83 लाख का बजट स्वीकृत

-पिछले वर्ष की तुलना में 10 प्रतिशत अधिक
-प्रभारी मंत्री महाराज ने जिला योजना समिति की बैठक में अधिकारियों को चेताया लापरवाही बरदाश्त नहीं की जाएगी

हरिद्वार । हरिद्वार जिले के प्रभारी मंत्री एवं राज्य के पर्यटन, सिंचाई, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज की अध्यक्षता में आज जिला योजना समिति की बैठक में 2020-21 के लिए 44 करोड़ 83 रूपये का बजट को प्रभारी मंत्री के अनुमोदन के पश्चात स्वीकृत कर दिया गया। इस बार जो बजट स्वीकृत किया गया है वह पिछले वर्ष की तुलना में 10 प्रतिशत अधिक है। बैठक में जनपद के प्रभारी मंत्री  सतपाल महाराज ने लोक निर्माण विभाग द्वारा निर्माणाधीन मोटर मार्गों एवं फ्लाई ओवरों के निर्माण में तेजी लाने के भी अधिकारियों को निर्देश दिये हैं।
जिला योजना समिति की बैठक में हरिद्वार जिले के प्रभारी मंत्री एवं राज्य के पर्यटन, सिंचाई, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि विकास कार्यों में किसी भी तरह की लापरवाही बर्दास्त नहीं की जाएगी। उन्होने नलकूपों के रखरखाव के मामले में मिल रही शिकायतों को देखते हुए उनकी जांच करने की भी बात कही है। प्रभारी मंत्री ने अधिकारियों को कहा कि वह विकास से संबंधित सभी सूचनाएं विधायकों व जनप्रतिनियों को उपलब्ध करवायें। उन्होने चेतावनी दी कि योजनाओं के कियान्वयन में किसी भी प्रकार का भेदभाव न किया जाए। जनपद हरिद्वार के प्रभारी मंत्री सतपाल महाराज द्वारा आज हरिद्वार स्थित सीसीआर सभागार में आयोजित जिला योजना की बैठक में जिला योजना के अन्तर्गत वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए रुपये 44 करोड़ 83 लाख का परिव्यय अनुमोदित किया गया, जिसमें सामान्य मद में रूपये 3527.00 लाख, अनुसूचित जाति हेतु रूपये 934.00 लाख एवं अनुसूचित जनजाति हेतु 22.00 लाख की धनराशि शासन द्वारा अनुमोदित की गयी है, जो गत वर्ष के अनुमोदित परिव्यय से 10 प्रतिशत अधिक है।
वर्ष 2020-21 में जिला योजना के लिए स्वीकृत परिव्यय रुपये 4483.00 लाख के सापेक्ष रूपये 1302.63 लाख निर्माण कार्यों के चालू दायित्वों की पूर्ति हेतु एवं रूपये 2025.64 लाख वचनबद्ध मदों की पूर्ति हेतु तथा रूपये 1154.73 लाख नये कार्यों हेतु प्रस्तावित किये गये हैं।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी हरिद्वार विनीत तोमर ने बताया कि शासन द्वारा वार्षिक जिला योजना वर्ष 2020-2021 के अन्तर्गत कुल धनराशि का 60 प्रतिशत पुराने चालूध्वचनबद्ध मदों हेतु प्राविधानित किया गया था,  शेष 40 प्रतिशत पीआरडी स्वंय सेवकों के पारिश्रमिक मानदेय तथा कोविड 19 से प्रभावित अर्थ व्यवस्था के सुधार हेतु रोजगारोन्मुखी विभागों की योजनाओं हेतु प्राविधानित किया गया था। प्रभावित अर्थ व्यवस्था के कारण सीमित वित्तीय संसाधनों के दृष्टिगत नवीन निर्माण कार्यो हेतु प्रतिबंधित किया गया था। जिस पर समिति ने असहमति जतायी थी और संशोधन हेतु समिति द्वारा नये कार्यो को प्रस्तावित किये जाने हेतु जिलाधिकारी श्री सी. रविशंकर के माध्यम से ज्ञापन के रूप में एक प्रार्थना पत्र प्रेषित किया था। जिसके बाद शाासन द्वारा आंशिक संशोधन करते हुए जिन जनपदों में कोई भी चालू कार्य शेष नहीं है अथवा बहुत कम है, ऐसे जनपदों में आवंटित धनराशि के सापेक्ष अपरिहार्य परिस्थितियों में नये कार्यो को जिला योजना में प्रस्तावित कर सम्मिलित किये जाने हेतु निर्देशित किया गया। जनपद हरिद्वार में चालू कार्य पूर्व से हैं, परन्तु जिला योजना समिति के समक्ष यह तथ्य प्रस्तुत करन के उपरान्त समिति द्वारा यह निर्णय लिया गया कि जनपद हरिद्वार में महाकुम्भ-2021 के मद्देनजर सड़कों का निर्माण किया जाना आवश्यक है। मानसून के कारण वर्षा से भी सड़कों का बुनियादी ढांचा प्रभावित हुअ है। महाकुम्भ में सम्पूर्ण भारत से जनपद में श्रद्धालुओं का आगमन होता है। ऐसी स्थिति में नये कार्यो को बिल्कुल भी नगण्य नहीं किया जा सकता है। शासन निर्देशानुसार एवं जनपद हरिद्वार में दैवीय आपदा से प्रभावित बुनियादी संरचना एवं महाकुम्भ 2021 तथा जनपद की आवश्यकताओं को दृष्टिगत रखते हुए निम्न विभागों को अतिरिक्त एवं नये कार्यो हेतु धनराशि प्रस्तावित की गयी है। जनपद की कुल प्रस्तावित धनराशि से विभिन्न विभागों के माध्यम से कुल 42852 व्यक्तियों हेतु रोजगार सृजन किया जायेगा। जिसमें से 20252 व्यक्तियों को डायरेक्ट बेनेफिट के माध्य से लाभान्वित किये जाने का प्रस्ताव है।
जनपद के पंचायतिराज विभाग हेतु गत वर्ष धनराशि प्रस्तावित नहीं की गयी थी, वित्तीय वर्ष 2020-21 में विभाग को ग्रामीण सड़क एवं सीसी रोड हेतु कुल धनराशि 826.00 लाख प्रस्तावित की गयी है। धनराशि से क्षतिग्रस्त एवं नयी सड़कों का निर्माण किया जाना प्रस्तावि है। बैठक में भगवानपुर विधायक ममता राकेश, ज्वालापुर विधायक सुरेश राठौर, रानीपुर विधायक आदेश चैहान, रूड़की विधायक प्रदीप बत्रा, विधायक झबरेड़ा देशराज कर्णवाल, विधायक काजी निजामुद्दीन, अध्यक्ष जिला पंचायत सुभाष वर्मा, राज्य मंत्री विनोद आर्य, मेयर हरिद्वार अनीता शर्मा, जिलाध्यक्ष भाजपा जयपाल सिंह चैहान, अमन त्यागी, जिला महामंत्री, भाजपा सहित समस्त जिला योजना समिति सदस्य, अर्थ एवं संख्याधिकारी पूरण सिंह तोमर, डीडीओ पुष्पेन्द्र सिंह चैहान सहित जिलास्तरीय अधिकारीगण उपस्थित रहे। इस अवसर पर प्रभारी मंत्री द्वारा कोरोनो फ्रंरट लाइन वर्करों को जिला प्रशासन की ओर से दी जाने कोविड मैनेजमेंट किट भी वितरित की गई। कलेक्ट्रेट फ्ररंट लाइन कार्मिक के रूप में अपर जिलाधिकारी कृष्ण कुमार मिश्र तथा विभिन्न तहसीलों की ओर से उप जिलाधिकारियों ने किट प्राप्त की। बैठक में कोविड 19 के दौरान सराहनीय कार्य करने वाले कर्मचारियों तथा औद्योगिक एसो. के प्रतिनिधियों को भी प्रशस्ति पत्र दिये गये।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *