ऐटनबाग में हुई लाखों की चोरी का आरोपी गिरफ्तार | Jokhim Samachar Network

Friday, August 12, 2022

Select your Top Menu from wp menus

ऐटनबाग में हुई लाखों की चोरी का आरोपी गिरफ्तार

विकासनगर। कोतवाली विकासनगर पुलिस ने लेहमन रोड एटनबाग में 19 दिन पूर्व हुई बंद घर में चोरी की वारदात का खुलासा कर दिया है। इस मामले में पुलिस ने चोरी के आरोपी को गिरफ्तार किया है जबकि सहारनपुर का ज्वेलर फरार है। विकासनगर पुलिस ने सहारनपुर में दबिश देकर ज्वेलर की दुकान को सील कर दिया है। विकासनगर कोतवाली के निरीक्षक रविंद्र शाह ने सोमवार को कोतवाली परिसर में पत्रकार वार्ता कर मकान में चोरी की घटना का खुलासा किया। कोतवाल ने बताया कि बलजीत सिंह पुत्र अपार सिंह निवासी लेहमन अस्पताल वाली गली एटनबाग हर्बरटपुर विकासनगर ने 29 जून को तहरीर दी थी। बताया कि 24 जून को वह अपनी मां का इलाज कराने के लिए परिवार के साथ बाहर गए थे। 28 जून को रात्रि करीब दस बजे वापस वह अपने घर लौटे तो देखा कि चोरों द्वारा घर से लाखों रुपये की ज्वेलरी एवं लाखों की नगदी चोरी की है। इस पर कोतवाली पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर चोर की तलाश शुरू की। पुलिस ने इस मामले में सीसीटीवी कैमरे खंगाले। सोमवार को पुलिस ने आरोपी नासिर पुत्र कमरुदीन निवासी शाहपुर निकट जामा मम्जिद थाना बेहट जिला सहारनपुर यूपी को सहारनपुर रोड हरबर्टपुर से गिरफ्तार किया। आरोपी ने पूछताछ में बताया कि चोरी के जेवरात उसने ज्वेलर फुरकान पुत्र अब्दुल कलाम निवासी बेहट जिला सहारनपुर को ढाई लाख रुपये में बेचे हैं। फुरकान की दुकान पठेड थाना चिलकानी सहारनपुर उत्तर प्रदेश में है। सूचना पर पुलिस ने ज्वेलर्स की दुकान पर छापेमारी की। लेकिन दुकानदार मौका पाकर फरार हो गया। इस पर पुलिस ने ज्वेलर की दुकान को स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर सील कर दिया है। आरोपी को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया है। पुलिस टीम में एसएसआई दीपक मैठाणी, चौकी प्रभारी हरबर्टपुर पंकज तिवारी, चौकी प्रभारी डाकपत्थर अर्जुन सिंह गुसाईं, कांस्टेबल कुलदीप सिंह, रजनीश कुमार, एसओजी देहात कांस्टेबल जितेंद्र कुमार शामिल रहे। कोतवाल ने बताया कि आरोपी ने चोरी के जेवरात बेचने से मिले रुपयों में से दो लाख बीस हजार रुपये बैंक ऑफ इंडिया में जमा किए। यह बैंक खाता आरोपी की पत्नी सितारा के नाम है। बचे हुए अन्य रुपयों में अस्सी हजार रुपये का एक ऐक्टिवा स्कूटर और पच्चीस हजार रुपये का एक एंड्रॉइड फोन खरीदा। जिन्हें पुलिस ने कब्जे में ले लिया। पुलिस ने आरोपी की पत्नी के नाम पर बैंक खाते को फ्रीज करवा दिया है। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसने बचे पैसे जुए में और स्मैक पीने में खर्च कर दिए हैं। आरोपी के कब्जे से पुलिस ने 34 सौ रुपये की नगदी, एक बैग, पास बुक आदि बरामद किये हैं। आरोपी नासिर ने पुलिस को बताया कि चोरी की अब तक जितने भी वारदातें की हैं उनमें सभी वारदातों को अकेला ही अंजाम दिया है। बताया कि चोरी की वारदात से पहले वह दो तीन दिन तक घर की रेकी करता है। जब वह रेकी पूरी कर देता है उसके बाद रात के समय अकेले ही चोरी की वारदात को अंजाम देता है। बताया कि बलजीत के घर में चोरी की वारदात से पहले 26 व 27 जून दिन में उसने रैकी की। बताया कि यूपी में घर और उत्तराखंड में रिश्तेदारी होने के कारण वह चोरी की वारदातों को अंजाम देने रिश्तेदारी में आता जाता रहता है। आरोपी चोरी के मामले में डालनवाला थाने से दो बार, एक बार क्लेमनटाउन, राजपुर थाने से दो बार, गैंगस्टर ऐक्ट में डालनवाला थाने से एक बार, थाना बेहट में चार बार चोरी व दो बार एनडीपीएस ऐक्ट व विकासनगर में आर्म्स ऐक्ट व चोरी के मामले में जेल जा चुका है।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *