भाजपा में कुँवर प्रणव चैम्पियन की वापसी पर आप ने जताया ऐतराज, किया प्रदर्शन | Jokhim Samachar Network

Wednesday, January 27, 2021

Select your Top Menu from wp menus

भाजपा में कुँवर प्रणव चैम्पियन की वापसी पर आप ने जताया ऐतराज, किया प्रदर्शन

-विवादित विधायक की बीजेपी में पुनः वापसी करने से बीजेपी का चाल चरित्र और चेहरा जनता के सामने आ गयाः हेमा भंडारी

हरिद्वार । आम आदमी पार्टी द्वारा बीजेपी से निष्काशित एवम उत्तराखंड  देवभूमि की भोली भली जनता पर अभद्र टिप्पडी एवम अमर्यादित भाषा का प्रयोग करने वाले  विधायक कुंवर प्रणव चैम्पियन की बीजेपी में पुनः वापसी के विरोध में आक्रोश प्रदर्शन कर अपना विरोध दर्ज किया। खानपुर विधानसभा से भाजपा के विधायक चैंपियन कुंवर प्रणव सिंह का कुछ समय पहले शराब और असलहो के साथ एक कमरे में साथियों के साथ नाचते हुए एक वीडियो मीडिया के सामने आया, जिसमें उन्होंने उत्तराखंड और उत्तराखंड वासियों को गाली देते हुए अभद्र भाषा का प्रयोग किया था।
हरिद्वार जोन की जिलाध्यक्ष एवं हरिद्वार विधानसभा प्रभारी हेमा भण्डारी ने कहा कि बीजेपी द्वारा विवादित विधायक की बीजेपी में पुनः वापसी करने से बीजेपी का चाल चरित्र और चेहरा जनता के सामने आ गया है इनकी कथनी और करनी में कितना अंतर है पूर्व में भी  बीजेपी विधायक कई बार अपनी मर्यादा लांघ चुके है । ऐसा विधायक जो उत्तराखंड में रहता है यहीं से चुनाव जीतता और उसके बाद हाथों में बंदूकें लहराते हुए व दारू के गिलास के साथ सरे आम उत्तराखंड को गाली देता,पहाड़ियों के लिए अभद्र भाषा का प्रयोग करता। बीजेपी ने उस समय दबाव में आकर अपने विधायक को 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया था लेकिन महज 13 महीनों में अचानक बीजेपी को अपने लाडले पर प्यार आ गया और उसको बुलाकर उससे माफी मंगवा कर फिर से पार्टी में शामिल कर लिया। उन्होंने कहा कि  एक तरफ महेश नेगी जो उत्तराखंड की बेटी के साथ दुष्कर्म का आरोपी है तो दूसरा उत्तराखंड को गाली देने के बाद दिखावे की माफी मांगता और बीजेपी उसे फिर से पार्टी में शामिल कर लेती।
जिला सचिव  एवम विधानसभा प्रभारी हरिद्वार शहर अनिल सती ने कहा कि बीजेपी दुसरों को अनुशासन का पाठ पढ़ाती है एवं स्वयं को अनुसाशन पार्टी बताती है परंतु बीजेपी की ऐसी क्या मजबूरी थी कि जिस विधायक को अनुसाशन हीनता के आरोप में 6 वर्षो के लिए निष्काषित किया गया हो मात्र 13 महीने में ही पार्टी में शामिल कराना पढ़ गया। इस अवसर पर हेमा भण्डारी, अनिल सती, पवन धीमान,शिशुपाल सिंह नेगी, रघुवीर सिंह पंवार, अम्बरीष गिरी, शाह अब्बास, अर्जून सिंह, शाह अब्बास, मंजू सिंह, रघुवीर सिंह पंवार, दीपचंद्र, कमल सिंह विष्ट, एहतेशाम जैदी, शुभम चैहान, संजू नारंग, नवीन मारिया, प्रवीण कुमार, हरेंद्र त्यागी, अनिल कुमार, प्रमोद वर्मा , सुगंधा वर्मा आदि अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *