महिलाओं को कभी भी उनके कपड़ों के कलर से जज न करेंः नेहा कुशवाह | Jokhim Samachar Network

Friday, February 26, 2021

Select your Top Menu from wp menus

महिलाओं को कभी भी उनके कपड़ों के कलर से जज न करेंः नेहा कुशवाह

-घरेलू हिंसा के प्रति जागरूक कार्यक्रम में झूम उठी महिलायें

-मांगल गीतों से हुई कार्यक्रम की शुरुआत

देहरादून/डोईवाला । महिलाओं को कभी भी उनके कपड़ों के कलर से जज न करें, क्या एक बुजुर्ग महिला चटख रंग नही पहन सकती। जरूरत है लोगों को अपनी सोच बदलने की। महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग के बाल विकास परियोजना डोईवाला के माजरी क्षेत्र में बुधवार को हिंसा के अंधेरे से आशा के उजियारे तक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की खास बात ये रही कि इस मौके पर अंत में महिलाएं मांगल गीतों पर जमकर झूमी। इससे पहले कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि नेहा कुशवाहा, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, विशिष्ट अतिथि नितिन रावत मुख्यमंत्री के सोशिया मीडिया प्रभारी, अखिलेश मिश्र, जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास विभाग ने दीप प्रज्वलन कर के किया।
इस अवसर पर  नेहा कुशवाहा, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने कहा कि महिलाओं को जो कलर पसंद है वो पहने। दूसरे कौन होते हैं डिसाइड करने वाले। इस मौके पर उन्होंने महिलाओं को अधिकारों, कानूनों व अधिनियमों से संबंधित जानकारी दी गई। साथ ही यह भी बताया कि किसी कार्य का यदि किसी भी विभाग के द्वारा  समाधान नहीं किया जाता है तो विधिक सेवा प्रधिरण के माध्यम से आवेदन दिन के उपरांत संबंधित विभाग को समस्या का समाधान करने के लिए भी निर्देशित किया जाता है ,जिससे महिला को आसानी से न्याय मिल सके। इस मौके पर नमिता गुप्ता, आन चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा मासिक धर्म के बारे में बताया गया।बाल विकास  परियोजना अधिकारी अंजू डबराल ने प्रधान मंत्री मातृ वन्दना योजना एवं क्प्त् फॉर्म से संबंधित जानकारी दी। महिला शक्ति केंद्र से सरोज ध्यानी, वैभवी डोरा द्वारा विभागीय योजनाओं की जानकारी दी गई जिसमें वन स्टॉप सेंटर, राष्ट्रीय महिला हेल्पलाइन (181),चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर (1098) पुलिस हेल्पलाइन नंबर (1090)  जेंडर भेदभाव, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, नन्दा गौरा योजना की के बारे में बताया गया साथ ही ,वन स्टॉप सेंटर से अधिवक्ता फिरदौस अली के द्वारा महिलाओं के साथ संवाद समस्याओं और समाधान से संबंधित जानकारी दी गई।श्री नितिन रावत, मुख्यमंत्री के सोशिया मीडिया प्रभारी ने कहा कि  महिलाएं जब आत्म निर्भर होंगी तभी देश तरक्की की राह पर आगे बढ़ेगा। कहा कि कार्यक्रम में महिलाओं के उत्साह और जानकारी के स्तर को देखते हुए यह प्रतीत होता है कि वह दिन दूर नहीं जब घरेलू हिंसा जैसी कार्यशालाओं की आवश्यकता नहीं पड़ेगी कार्यक्रम में मांगल गीत एवं नुक्कड़ नाटक के माध्यम से महिलाओं का उत्साह बढ़ाया गया। इस मौके पर महिलाएं झूम उठी। साथ ही कार्यक्रम में 35 बालिकाओं का हीमोग्लोबिन चैकअप कर आयरन फॉलिक एसिड की गोलियां भी वितरित की गई। कार्यक्रम में क्षेत्र की सुपरवाइजर इशिता कठैत, यशोदा बिष्ट एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्तियां शीला,अर्चना,पूनम, सोमबला,सुमन आदि भी उपस्थित रहीं। कार्यक्रम में इंस्पिरेशन एवं पीआर इवेंट्स की ओर से सहयोग किया गया।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *